गीतांजलि अय्यर का जीवन परिचय – दूरदर्शन की मशहूर न्यूज एंकर गीतांजलि अय्यर

गीतांजलि अय्यर एक प्रसिद्ध भारतीय टेलीविजन एंकर और पत्रकार थीं, जिन्हें टेलीविजन पत्रकारिता के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए जाना जाता है।

उन्होंने 1971 में भारत के राष्ट्रीय प्रसारक दूरदर्शन के साथ अपना करियर शुरू किया और 1990 के दशक के सबसे लोकप्रिय एंकरों में से एक के रूप में खुद को स्थापित किया।

गीतांजलि अय्यर का जीवन परिचय

भारत में जन्मी, गीतांजलि ने कोलकाता के लोरेटो कॉलेज से स्नातकोत्तर की डिग्री हासिल करने से पहले अंग्रेजी में स्नातक की डिग्री पूरी की। उन्होंने राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय (NSD) से डिप्लोमा प्राप्त करके अपने कौशल को और निखारा, जिससे प्रसारण और संचार के क्षेत्र में उनकी विशेषज्ञता में इजाफा हुआ।

दूरदर्शन में अपने तीस साल के कार्यकाल के दौरान, गीतांजलि न केवल एक परिचित चेहरा बन गईं बल्कि अपने करियर में कई मील के पत्थर भी हासिल किए।

पुरस्कार और सम्मान

टेलीविजन पत्रकारिता के क्षेत्र में उनकी असाधारण प्रतिभा और समर्पण को उजागर करते हुए उन्हें चार बार प्रतिष्ठित बेस्ट एंकर पर्सन अवार्ड मिला।

उनके उत्कृष्ट कार्य, उपलब्धियों और योगदानों के लिए गीतांजलि को 1989 में इंदिरा गांधी प्रियदर्शिनी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

टेलीविजन एंकर के रूप में अपने काम के अलावा, गीतांजलि ने दूरदर्शन के साथ अपने तीन दशक लंबे जुड़ाव के बाद कॉर्पोरेट संचार, सरकारी संबंधों और मार्केटिंग में भी काम किया। उन्होंने एक प्रतिष्ठित भारतीय उद्योग संघ, भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) के लिए एक सलाहकार के रूप में कार्य किया, जहाँ उन्होंने बहुमूल्य अंतर्दृष्टि और सलाह प्रदान की।

अपने टेलीविजन करियर के अलावा, गीतांजलि ने टेलीविजन धारावाहिकों के क्षेत्र में भी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। उन्होंने धारावाहिक “खानदान” में सफलतापूर्वक काम करके अपनी बहुमुखी प्रतिभा का प्रदर्शन किया, आगे अपनी अभिनय क्षमताओं का प्रदर्शन किया।

गीतांजलि अय्यर के निधन से पत्रकारिता के क्षेत्र में काफी शोक है और उनके निधन पर मीडिया व पत्रकारिता की जानी मानी हस्तियों ने शोक व्यक्त किया है। उन्हें टेलीविजन व पत्रकारिता में उनके उल्लेखनीय योगदान और उद्योग पर उनके महत्वपूर्ण प्रभाव के लिए हमेशा याद किया जाएगा।

Similar Posts